Shaam Bhi Khoob Hai | शाम भी खूब है पास महबूब है | Hindi Lyrics Bollywood Song


Shaam Bhi Khoob Hai | शाम भी खूब है पास महबूब है | Hindi Lyrics Bollywood Song

Song – Shaam Bhi Khoob Hai
Film – Karz- The Burden Of Truth
Singer – Kumar Sanu, Udit Narayan, Alka Yagnik
Lyricist – Sameer
Music Director – Sanjeev, Darshan
Artist – Suniel Shetty, Sunny Deol, Shilpa Shetty

Full Hindi Lyrics

शाम भी खूब है
पास महबूब है
शाम भी खूब है
पास महबूब है
ज़िन्दगी के लिए और क्या चाहिए
शाम भी खूब है
पास महबूब है
आशिकुई के लिए और क्या चाहिए
शाम भी खूब है
पास महबूब है
क्या हसीं है समां धड़कने है जावा
क्या हसीं है समां धड़कने है जावा
दोस्ती के लिए और क्या चाहिए
शाम भी खूब है
पास महबूब है
चाँद की चांदनी
आसमान की पारी
शायरों के लिए तो है एक शायरी
हाँ देखते ही तुझे
दिल दीवाना हुआ
चाहतो का शुरू एक फ़साना हुआ
रंग है नूर है चैन है ख्वाब है
रंग है नूर है चैन है ख्वाब है
अब ख़ुशी के लिए क्या चाहिए
शाम भी खूब है
पास महबूब है
हुस्न है प्यार है दिल है दिलदार है
हुस्न है प्यार है दिल है दिलदार है
बोलती है नज़र चुप है मेरी जुबां
हर किसी की जुदा है मेरी दास्तान
न किसी से कभी प्यार मैंने किया
दर्द-इ-दिल न कभी यार मैंने लिया
सांज है गीत है सुर है संगीत है
सांज है गीत है सुर है संगीत है
दोस्ती के लिए और क्या चाहिए
शाम भी खूब है
पास महबूब है
ज़िन्दगी के लिए और क्या चाहिए
शाम भी खूब है
पास महबूब है
आशिकुई के लिए और क्या चाहिए…

Please Do me A fever | Like It | Share It | Subscribe It | Keep Following
Thank You

Leave a Reply