होली खेलें Holi Khelein Hindi Lyrics | Begum Jaan | Shreya Ghoshal | Anmol Malik

Holi Khelein Hindi Lyrics | Begum Jaan

Song Credits:Holi Khelein
Singer- Shreya Ghoshal & Anmol Malik
Music Composer- Anu Malik
Lyricist- Kausar Munir

Full Hindi Lyrics

होली खेले
ब्रिज की हर बाला
तन से खेले
मन से खेले
कान्हा के संग
अंग रंग डाला

होली खेले
ब्रिज की हर बाला
तन से खेले
मन से खेले
कान्हा के संग
अंग रंग डाला

मोर पंखुड़ी उड़ी उड़ी
नटखट बंसी बजी बजी
गगन गिरी धुप सजी
ब्रिन्दावन की गली गली
कान्हा के रंग खिली खिली
कान्हा के रंग खिली खिली

होली खेले
ब्रिज की हर बाला
तन से खेले
मन से खेले
कान्हा के संग
अंग रंग डाला

प्रजा आई
राजा आये
कान्हा संग नटराजा आये
ठुमक ठुमक कर
रामचंद्र संग
अवध के सारे
ख्वाजा आये
अवध के सारे
ख्वाजा आये
दम मस्त कलंदर
भांग रगड़कर
शकर हमरी
दर पर आये

होरी होरी ये क्या हो गया
हर रंग संग गेरुआ मिल गया
फागुन रंग का भेद न जाने
फागुन रंग का भेद न जाने

अंग से अंग लगा
जब खिल गया
जब रंग डाला

होली खेले
ब्रिज की हर बाला
तन से खेले
मन से खेले
कान्हा के संग
अंग रंग डाला

मोर पंखुड़ी उड़ी उड़ी
नटखट बंसी बजी बजी
गगन गिरी धुप सजी
ब्रिन्दावन की गली गली
कान्हा के रंग खिली खिली
कान्हा के रंग खिली खिली

होली खेले
ब्रिज की हर बाला
तन से खेले
मन से खेले
कान्हा के संग
अंग रंग डाला

घनन घनन
सावन झूमे
छनन छनन
तन मन झूमे
धनन धनन
भाग हमारे
हमारी अंगना हर रंग झूमे
हमरी अंगना हर रंग झूमे

आज न कोई लाज शर्म हो भैया
आज न कोई भरम हो भैया
प्यासी के संग पानी झूमे
दासी के संग रानी झूमे

होरी होरी ये क्या हो गया
हर रंग के संग गेरुआ मिल गया
फागुन रंग का भेद न जाने
फागुन रंग का भेद न जाने

अंग से अंग लगा
जग खिल गया
जब रंग डाला

होली खेले
ब्रिज की हर बाला
तन से खेले
मन से खेले
कान्हा के संग
अंग रंग डाला

मोर पंखुड़ी उड़ी उड़ी
नटखट बंसी बजी बजी
गगन गिरी धुप सजी
ब्रिन्दावन की गली गली
कान्हा के रंग खिली खिली
कान्हा के रंग खिली खिली

होली खेले
ब्रिज की हर बाला
तन से खेले
मन से खेले
कान्हा के संग
अंग रंग डाला

Please Do me A fever | Like It | Share It | Subscribe It | Keep Following
Thank You

Leave a Reply