बाघ्बान रब है | Baghban Rab Hai Hindi Lyrics Bollywood Song


बाघ्बान रब है | Baghban Rab Hai Hindi Lyrics Bollywood Song

Director: Ravi Chopra
Writers: Shafiq Ansari (screenplay), Satish Bhatnagar
Stars: Amitabh Bachchan, Hema Malini, Aman Verma

Full Hindi Lyrics

बाघ को जनम देने वाला बघ्बान परिवार को जनम देने वाला पिटा
दोनो ही अपने खून पसीने से अपने पोधो को सींचते हैं
न सिर्फ अपने पेड़ से उसके साए से भी प्यार करते हैं
क्यूं की उसे उम्मीद है एक रोज़ जब वो ज़िन्दगी से थक जाएगा
यही साया उसके काम आयेगा

ओ धरती तरसे अम्बर बरसे रुत आये रुत जाए हाय
हर मौसम की खुशबू चुनके बाघ्बान बाघ सजाये
बाघो के हर फूल को अपना समझे बाघ्बान..
हर घडी करे रखवाली, पट्टी पट्टी, डाली डाली
सींचे बाघ्बान
बाघो के हर फूल को अपना समझे बाघ्बान..
हर घडी करे रखवाली, पट्टी पट्टी, डाली डाली
सींचे बाघ्बान
बाघ्बान रब है बाघ्बान….

ओ मधुबन की बहार ले आये
मौसम रीते रीते हाय मौसम रीते रीते
जनम जनम की तृष्णा बुझ गयी..
बिरहा के क्षण बीते हाय बिरहा के क्षण बीते
फिर से सजाये भिख्रे अपने सपने बाघ्बान..
बाघ्बान रब है बाघ्बान…
बाघ्बान रब है रब है बाघ्बान

ओ उंगली थामके जिन बिरहन को हमने दिखाई राह
मात पिटा की उनके मन मे तनिक नही परवाह
ओ आंन्सु भर नैनो से इनको देखे बाघ्बान..
बाघ्बान रब है बाघ्बान….

ओ किसने दुःख की अग्नि डाली बंजर हो गए खेत
ओ हरी भरी जीवन बघिया से उड़ने लगी है रेट
क्या बोया था और क्या काटा सोचे बाघ्बान..
बाघ्बान रब है बाघ्बान…
बाघ्बान रब है रब है बाघ्बान
ओ यही सोचके सांसे लिख दी इन फूलन के नाम
इनकी छानिया छानिया बीते उम्र की ढलती शाम
गुंचे हरदम ही मुस्काए चाहे बाघ्बान..
हर घडी करे रखवाली पट्टी पट्टी डाली दाल
सींचे बाघ्बान
बाघ्बान रब है बाघ्बान
बाघ्बान रब है रब है रब है रब है रब है बाघ्बान

वो सूरज है लाई जिसने धुप आंगन आंगन मे
क्यू है अकेलेपन का अन्धेरा आज उसी के दामन मे
क्या चाहा था और क्या पाया सोचे बाघ्बान..
बाघ्बान रब है बाघ्बान….
बाघ्बान बाघ्बान

Please Do me A fever | Like It | Share It | Subscribe It | Keep Following
Thank You

Leave a Reply